ग्राम ख़ैरी जिला मुख्यालय बालाघाट से उत्तर दिशा में 4 किलोमीटर पर स्थित है|

ग्राम ख़ैरी जिला मुख्यालय बालाघाट से उत्तर दिशा में 4 किलोमीटर पर स्थित है| इसके पूर्ब् में जबलपुर से बालाघाट रेलवे लाइन, संजय सरोवर परियोजना की ख़ैरी वितरक नहर, लगा हुआ है|

नहर एवं रेलवे के बीच दुर्गा मंदिर, हनुमान मंदिर, काली मंदिर, भीम सेन मंदिर कुछ दूरी पर स्थित है मंदिर से लगा हुआ विशाल पीपल का वृक्ष है ग्राम के दक्षिण में वैनगंगा नदी है बालाघाट जबलपुर मुख्य सड़क मार्ग गाँव के बीचों-बीच स्थित है| ग्राम ख़ैरी 2005 से पूर्व ग्राम पंचायत भाटेरा से संबध थी, 2005 के बाद ख़ैरी ग्राम पंचायत ख़ैरी का गठन हुआ| ग्राम ख़ैरी में ११ वार्ड बनाए गये है एवं सन 2005 से सन 2009 तक श्री गौरी शंकर मोहरे सरपंच पद पर कार्यात है|

ग्राम में सन 1997 से श्री पी. एल. मोहरे के द्वारा निजी स्वास्थ केंद्र की सेवाएँ गाँव में दी जा रही है 1990 में ग्राम में सेंट्रल बॅंक ऑफ इंडिया की शाखा स्थित है जो वर्तमान में भाटेरा चौकी स्थन्तिरित हो चुकी है ग्राम में को-ओपरेटिव की दुकान विगत कई वर्षों से सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत कार्य कर रही है| ग्राम पंचायत ख़ैरी 2010 में निर्मल ग्राम घोषित हो चुका है|